जैन धर्म से जुड़ी धार्मिक गतिविधियों की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं?

नियमित सदस्य बनकर पाएं हर माह एक आकर्षक न्यूज़लेटर

सदस्यता लें!

हम आपको स्पैम नहीं करेंगे और आपके व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित बनाएंगे

आचार्यश्री की जानकारी अब Facebook पर Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर शाकाहारी रेस्टोरेंट Android पर दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर देश और विदेश के जैन मंदिरों एवं जिनालय की जानकारी के लिए www.jaintemple.in विजिट करें Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें देश और विदेश के शाकाहारी जैन रेस्तराँ एवं होटल की जानकारी के लिए www.bevegetarian.in विजिट करें

जैन ध्वज

जैन ध्वज (Jain Flag)

Jain Flag

    लाल रंग हमारी आंतरिक दृष्टियों को जागृत करता है।
    पीला रंग हमारे मन को सक्रिय करता है।
    श्वेत रंग हमारी आंतरिक शक्तियों को जागृत करता है।
    हरा रंग शांति देता है तथा आत्म साक्षात्कार में सहायक होता है।
    नीला रंग अवशोषक होता है। वह बाहर के प्रभाव को भीतर नहीं जाने देता है।

 

Jain Flag

 

5 Comments

Click here to post a comment
  • Jai Jinendra – Pl clarify reg jainism colours – last one i.e., bottom one colour will be blue or black. Because some places I have seen in our five colours last one in black. I hope you will be clarify my doubt- Thanks and Regards – Jai Jinender

  • Jai Jinender

    pls note the colour of last row of flag is black,not blue as per Acharya Shri108 Vidyanand ji Maharaj

    Founder of Jain Flag of five colour in the presence of All community of Jains in 1974 on the occasion of 2500 parinirvan maha mahotsav of loard Mahavira.The Main motto of releaseing this flag was to together the differnet community of jains like Digamber,Shetaber,Sthankwasi,TeraPanthi etc..
    Place- Jain baal-ashram Dariya ganj in the presence of Acharya Shri Dharam Sagar ji ,Acharya ,
    Shri Deshbhushan ji,Acharya Shri Tulsi ji Maharaj,Muni shri sushil Kumar ji,Muni Shri Janak Vijay ji

    The meeting was held of all jain community and they had approved the same.
    Pls update the color.For more detail Pls contact Kund Kund Bharthi,18-B Special Institutional Area,New Delhi-67,Ph no-26564510.You will get the book Jain Shasan Dhawj Writtern by Acharya Shri Vidaynand ji.

  • White colour: arihant parmesthi (ghatia karam ka nash karne par shudh nirmalta ka prateek)
    Red Colour: sidh parmesthi (Aghatia karam ki nirgara ka prateek)
    Yellow colour: Aacharya parmesthi (shisyo ke praty vatsalye ka prateek)
    Green colour: Upadhaye parmesthi (prem- vishvas ka prateek)
    Blue colour: sadhu parmesthi (sadha me leen hone ka , mukti ki aur kadam badane ka pratik)

  • always give the detail of source from which u given the above data.
    what does swastik represent that u have not mentioned.
    correct the name of site as vidyasagarji. net atleast.

कैलेंडर

december, 2017

28jun(jun 28)7:48 am(jun 28)7:48 amसंयम स्वर्ण महोत्सव

काउंटडाउन

X