आचार्यश्री समयसागर जी महाराज इस समय डोंगरगढ़ में हैंयोगसागर जी महाराज इस समय चंद्रगिरि तीर्थक्षेत्र डोंगरगढ़ में हैं Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर आर्यिका पूर्णमति माताजी डूंगरपुर  में हैं।दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें देश और विदेश के शाकाहारी जैन रेस्तराँ एवं होटल की जानकारी के लिए www.bevegetarian.in विजिट करें

शांतिधारा एक परिचय

शांतिधारा दुग्ध योजना (गिर गौशाला)

(श्री दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र बीनाजी बारह ) ग्राम टूँडरी, ग्राम पंचायत धुलतरा, तह. देवरी जि. सागर (म.प्र.) – 470226

संपर्क सूत्र : +91-9340866093, +91-8770637723

शांतिधारा दुग्ध योजना आचार्य श्री १०८ विद्यासागर जी महाराज की प्राणीमात्र के प्रति करुणा का प्रतिफल है। गुरूजी ने अपने दीक्षा के पचास वर्षों में हज़ारों किलो मीटर पद-यात्रा करके ग्रामीणों की वस्तुस्थिति को बहुत पास से देखा है। उनके मन में किसानों के प्रति सद्भावना हमेशा से ही रही है।

किसानों में हरित क्रांति के समय से ही खेती के लिए रसायनों का उपयोग करने का प्रचलन बढ़ गया जिसके कारण पशु पालन के प्रति किसानों का रुझान कम होता चला गया। इसके फलस्वरूप किसानों का ध्यान केवल दूध का उत्पादन करने वाली गायों को पालने पर ही केंद्रित रहा। उत्पादन को बढ़ाने की होड़ में विदेशी नस्लों का प्रचलन भी बढ़ता चला गया। विदेशी नस्लों की गायों का उत्पादन तो बहुत अधिक होता है किंतु उससे होने वाली बीमारियाँ भी बहुत अधिक हैं जिसके कारण कई वैज्ञानिक इस दूध को ज़हर और देसी नस्ल की गाय के दूध को अमृत तुल्य मानते हैं।

देसी गाय के मूत्र एवं घी पर आधारित जिन औषधियों का प्रमाण हमारे शास्त्रों में मिलता है उनसे आज के समय में हो रहे कैन्सर और डायबिटीस जैसे असाध्य रोगों का भी निराकरण सम्भव है। लेकिन दुर्भाग्यवश आज उपचार की ये पद्धतियाँ विलुप्त जैसी होती जा रहीं हैं।

इन सभी प्रमाणित लाभों को ध्यान में रखते हुए, जीवदया एवं स्वदेशी अवधारणा में अहिंसामयी भारतीय संस्कृति के संरक्षण हेतु तथा शुद्ध अर्थोपार्जन के साथ साथ जन जन को शुद्ध दूध, घी.. आदि उपलब्ध कराने के लिए देसी गाय की सर्वोच्च गुणवत्ता वाली प्रजाति “गिर गाय” पर केंद्रित शांतिधारा दुग्ध योजना की स्थापना गुरूजी के आशीर्वाद से उन्हीं के सानिध्य में मिती आषाढ़ शुक्ल चौदस दिन शनिवार दिनांक २४ जुलाई २०१० को भारत देश के मध्यप्रदेश में सागर जिला के अंतर्गतआने वाले देवरी तहसील के बीना बारहा ग्राम में श्री दिगम्बर जैन अतिशय तीर्थक्षेत्र बीनाजी बारहा की भूमि पर की गई

प्रारम्भिक पाँच वर्ष मूलभूत व्यवस्था जैसे भूमि, शेड निर्माण आदि में लग गए। इसके पश्चात २०१५ के मध्य में यहाँ लगभग २०० गिर गाय, उनके बच्चे और साँड़ आए और हो गया गुरूजी की दूरगामी योजना का आग़ाज़…..

उदेश्य :-

गौ पालन : देसी नस्ल की गायों के पालन को प्रोत्साहन देना।

जैविक कृषि : गौ आधारित खेती और जीवन को प्रोत्साहन देना। एक प्रयोग के आधार पर किसानों को गौ आधारित खेती का प्रशिक्षण देना। इस पद्धति में जीवामृत, जैविक खाद, जैविक कीटरोधक, आदि के बारे में जानकारियाँ देकर उन्हें यह सब उपलब्ध कराना। ग्रामीणों को गौ-आधारित जीवन की प्रेरणा देकर उन्हें स्वावलंबी बनाना |

जैविक उत्पाद : जन सामान्य एवं त्यागी व्रतीयों को रसायन मुक्त एवं शुद्ध भोज्य पदार्थ जैसे दूध, दही, घी, अनाज, सब्ज़ियाँ एवं दालें उपलब्ध कराना।

पंचगव्य औषधि : पंचगव्य पर आधारित औषधियों एवं प्रसाधन वस्तुओं का निर्माण कर उसका प्रशिक्षण देना।

प्राकृतिक उर्जा स्त्रोत : प्राकृतिक संसाधनों जैसे सौर एवं पवन ऊर्जा का उपयोग करके गौ-शालाओं को ऊर्जा के दृष्टिकौण से स्वाश्रित बनाना |

“A2 दूध/घी, क्या और क्यों?”

वैज्ञानिकों ने शोध करके बताया है कि गिर नस्ल की गाय के दूध में A2 प्रोटीन पाया जाता है। इसके साथ इस दूध में ओमेगा 3 फैटी एसिड एवं अन्य लाभकारी प्रोटीन आदि पाए जाते हैं जो कि आज के समय में होने वाली प्राय:कर सभी घातक बीमारियों का रामबाण इलाज हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता को सशक्त करने वाले हैं।

गौशाला कार्य शैली :

1 . गौशाला के सभी कार्यों का निर्देशन और देख रेख ब्रम्हचारी भाईयों के द्वारा किया जाता है।

2 . गाय का दूध निकालने के लिए कोई इंजेक्शन या केमिकल का प्रयोग नहीं किया जाता है।

3 . शांतिधारा के लगभग १२५ एकड़ खेतों पर जैविक पद्धति से कृषि की जाती है। साथ ही उगाये गया हरा चारा गौवंश को खिलाया जाता है।

4 . गाय के दूध पर पहला अधिकार उसके बछड़े और बछड़ियों का रहता है जिन्हें पर्याप्त मात्रा में दूध पिलाकर ही दोहन किया जाता है।

5 . दूध दोहन पारम्परिक पद्धति से किया जाता है।

6 . घी का उत्पादन पारम्परिक पद्धति से मटकों में दही जमा कर, बिलोना करकें मक्खन के लड्डू बना कर किया जाता है।

7 . हमारा गौवंश के साथ भावनात्मक जुड़ाव है। उन्हें पूरे वात्सल्य और प्रेम के साथ रखा जाता है।

8 . गौवंश को अनुपयोगी होने पर संस्था में ही रखा जाता है। उन्हें किसी कसाई-खाने नहीं भेजा जाता है।

प्रशिक्षण कार्यक्रम :
ग्रामीण अर्थव्यवस्था को मजबूत करने और गौ आधारित उद्यमिता को बढ़ावा देने के लिए विभिन्न विधाओ में प्रशिक्षण दिया जाता है | इसमें प्रमुख रूप से गौ पालन, डेरी प्रबंधन, जैविक कृषि, पंचगव्य औषिधि निर्माण, जैविक खाद और कीट रोधक बनाने आदि का प्रशिक्षण दिया जाता है |

शांतिधारा दुग्ध योजना में उपलब्ध सुविधाओं पर एक नज़र –

▪गायों के लिए 7 शेड

▪प्रशासनिक एवं आवास भवन

▪ डेरी प्लांट – में पारम्परिक बिलोना पद्धति से घी निर्मित होता है। इसके अलावा दूध, दही, छाँछ, मावा, पनीर आदि भी बनाया जाता है।

▪ पंचगव्य औषधि निर्माण विभाग। इनमें प्रमुख रूप से घी पर आधारित औषधियाँ जैसे अर्जुन घृत, पुनर्नवा घृत, पंचगव्य घृत, नस्य, नेत्र अमृत आदि, गौ-मूत्र आधारित औषधियाँ जैसे गोमयादि अर्क एवं अर्जुन घनवटी आदि शामिल हैं।

▪ जल व्यवस्था के लिए एक बड़ा तालाब, कुछ छोटे तालाब, कुए, बोर एवं भूमि किनारे नदी है। बड़े तालाब की क्षमता लगभग १ करोड़ लीटर पानी की है।

▪ भूसा के भंडारण के लिए एक बड़ा भूसा शेड (६०’x १८०’)

▪ जैविक खाद एवं कीटरोधक निर्माण विभाग (जैविक खेती के लिए – केंचुआ खाद, वर्मी कॉम्पोस्ट, जीवामृत, जैविक कीट-निरोधक आदि का निर्माण किया जाता है)

▪ गायों के लिए हरे चारे की व्यवस्था है। लगभग १५-२० एकड़ भूमि में हरा चारा पैदा किया जाता है। इसमें प्रमुख रूप से नेपीअर, सूपर नेपीअर, ज्वार, मक्का और वरसींग आदि की खेती की जाती है।

▪ दो १०५ घन मीटर की क्षमता वाले गोबर गैस प्लांट। इन गोबर गैस प्लांटों से शांतिधारा की ईंधन की खपत पूर्ण हो रही है और कुछ हद तकबिजली की खपत भी; यह कार्य ३० किलो वॉट के बॉयो गैस जेनरेटर के माध्यम से हो रहा है।

▪ यहाँ सोलर पैनल से चलने वाली मोटर के माध्यम से सिंचाई की जाती है |

▪ बैलों से चलने वाली आटा चक्की, घास कटर, पानी पंप, ट्रैक्टर हैं।

अभी यह सब हमारे उदेश्यों के लिए अपर्याप्त है। आगे के और विस्तार के लिए आपके सहयोग की आवश्यकता है | आइये आप और हम भारत के सर्वांगीण विकास में सहायक बनें।


गाय देश का :
धर्मशास्त्र है,   कृषिशास्त्र है
अर्थशास्त्र है,   नीतिशास्त्र है।
उद्योगशास्त्र है,  समाजशास्त्र है
विज्ञान्शास्त्र है,  आरोग्यशास्त्र है।
पर्यावरणशास्त्र है, आध्यात्मशास्त्र है।

धार्मिक और पारमार्थिक कार्यों को चलाने के लिए आम जन के आर्थिक सहयोग की महती आवश्यकता होती है। आप भी इन कार्यों में सहयोग देकर पुण्य के भागी बन सकते हैं। आपके द्वारा दिया गया सहयोग इन लोक कल्याणकारी कार्यों को आगे बढ़ाने में सहायक होगा।

संत शिरोमणि दिगंबर जैन आचार्य श्री १०८ विद्यासागरजी महाराज एवं उनके शिष्यों के आशीर्वाद एवं प्रेरणा से संस्थापित गौशालाएँ

गौशालाओं की सूची

१. श्री दयोदय पशु सेवा सदन, गुरोद रोड (वर्री घाट), गंज बासौदा, विदिशा, म.प्र.

स्थापना अध्यक्ष- श्रीमल जैन, २ मार्केटिंग रोड, सोना भवन, गंज बासौदा
फोन (०७५९४) २२१७९६, मो. ९८२७२-४४६५२
   
२. जीवदया गौरक्षण एवं पर्यावरण केंद्र, डोल बरखेड़ी, भोपाल म.प्र.

स्थापना ६ जून ९९, सानिध्य- अखिलेश्वरानंद गिरिजी
स्थापना अशोक जैन, शांति सीड्स, ८६, छोला रोड, भोपाल-४६२००१ म.प्र.
फोन (०७५५) २५३६८२५
   
३. आचार्य विद्यासार गौसंवर्धन केंद्र, आष्टा, सिहोर, म.प्र.

स्थापना २४/०१/९९, मुनि श्री नियमसागरजी ससंघ
स्थापना पवन कुमार जैन, अलीपुर, आष्टा
फोन २४३२१८, २४३३२२
   
४. दयोदय पशु सेवा केंद्र, मल्हारगढ़ रोड, मुंगावली, गुना म.प्र.

स्थापना २५/०३/९९, मुनि श्री क्षमासागरजी ससंघ
स्थापना देवेंद्र सिंघई, संजय सिंघई
फोन (०७५४८) २४६६५९, २४६५६२, २७२०४८, २७२०९३, २७२२१८
   
५. गौरक्षण सेवा समिति, कुरवाई, विदिशा म.प्र.
 
स्थापना ०१/१०/९६, ब्र. सविता बहिन
स्थापना संतोष कुमार गुढ़ी, किराना व्यापारी, रामनारायण आर्य
फोन ०७५९३-२४४२५२, २४४२०२
   
६. सर्वोदय पशु संरक्षण समिति, बुधवारा बाजार, सिलवानी, रायसेन म.प्र.

स्थापना ०२/१०/९८, आर्यिका श्री प्रभावनामतीजी ससंघ
स्थापना सिंघई देवेंद्र कुमार, राजेंद्र कुमार, मनीष सिंघई, सिंघई छिदामीलाल
फोन (०७५८४) २४६६५९, २४६५६२, २४०५२९, २४०६७७, २४०५२९, २४०६७७, २४०८५८
  ऊपर
७. दयोदय जीवदया एवं पर्यावरण संस्थान, गाँधी बाजार, बेगमगंज, रायसेन म.प्र.

स्थापना ०१/१०/९८, आर्यिका श्री प्रभावनीमतीजी ससंघ
स्थापना पदम चंद शिखर चंद जैन, पुराना बस स्टैंड
फोन २७२२३९
   
८. आचार्य विद्यासार गौसंवर्धन केंद्र, दयोदय पशु सेवा केंद्र, लेह, सागर म. प्र.

स्थापना २८/१२/९७, मुनि श्री समतासागरजी ससंघ
स्थापना १. ऋषभ कुमार जैन, २/३, सदर बाजार, कार्यालय (सागर)- १२-१३, सुपर मार्केट, गुजराती बाजार, सागर म.प्र.२. डॉ. एस.के. जैन, पूर्व वरिष्ठ कृषि वैज्ञानिक, ७६०/१, अंकुर कॉलनी, मकरोनिया, सागर
फोन (०७५८२) २२३६२६, २८८२६८, २३०६४८, २३०९७१
   
९. विद्यासागर गौशाला, शांति नगर, भोजपुर, तहसील- गौहर गंज, रायसेन, म.प्र.

फोन ०७४८०-२६२२२५, २३३६४६
   
१०. दयोदय गौसेवा, जीवरक्षण एवं पर्यावरण संरक्षण संस्थान, खुरई- ४७०११७, सागर म.प्र.

स्थापना २०.०४.९८, आर्यिका श्री प्रभावनामतीजी ससंघ
स्थापना अध्यक्ष- जिनेंद्र गुरहा, सचिव- ज्ञानचंद चौधरी, हेमचंद बजाज
फोन ०७५८१-२४०३०६, २४०५५७, २४०३३३, २३२०४५, २३२१३५
  ऊपर
११. दयोदय गौसेवा सदन, गढ़ाकोटा, सागर-म.प्र.

स्थापना शरद पूर्णिमा, १९९८, श्री बाल मुरारी बापू
स्थापना रवींद्र जैन (उमरावाले), खेमचंद जैन
फोन ०७५८५-२४२४३३, २४१२२०
   
१२. दयोदय पशु सेवा केंद्र, सनाई रोड, मण्डी, बामौरा, सागर, म.प्र.

स्थापना ११.०७.९९, मुनि श्री क्षमासागरजी ससंघ
संपर्क दिगम्बर जैन प्रेम प्रचारिणी संस्था, मण्डी बामौरा, अध्यक्षा- श्रीमती निर्मला जैन, नरेंद्र जैन, नरेंद्र नायक
फोन ०७५९४-२२६२१९, २२६३६८, २२६२३३, २२६३०७
   
१३. श्री दयोदय पशु सेवा केंद्र, बीना (सागर) म.प्र.

स्थापना ०२.१०.९८, मुनि श्री क्षमासागरजी ससंघ
संपर्क इंजी. सुभाष जैन, अभय सिंघई, विभव कोटिया
फोन ०७५८०-२२१०३८, २२००५६, २२०४४९, २२२७५९, २२०३३३
   
१४. दयोदय पशु सेवा केंद्र, गोमती धरा, तहसील- नागौद, सतना, म.प्र.

स्थापना २३.०७.९८, मुनि श्री समतासागरजी, ससंघ
संपर्क स्वास्तिक प्रिंटर्स, गांधी रोड, सतना
फोन ०७६७२-२३४२३१, २३४७३१, २३४७४२
   
१५. दयोदय पशु संरक्षण केंद्र गौशाला, गुना म.प्र. (१७६) जैन पार्श्वनाथ मंदिर, चौधरी मुहल्ला, गुना

संपर्क अध्यक्ष- केसरीमल जैन, जैन ज्वेलर्स, सदर बाजार
फोन ०७५४२-२५५८४४, २५६०३६०
   
१६. दयोदय पशु सेवा केंद्र, अशोक नगर, गुना, म.प्र.

संपर्क केवलचंद जैन भैंसरवास, कार्याध्यक्ष- रविकांत कांसला, रमेश चौधरी
फोन ०७५४३-२२२३७१, २२५००५, २२२३४७, २२२४१४, २२५४३८, २२२४१५
  ऊपर
१७. दयोदय पशु सेवा केंद्र ट्रस्ट, चौक मालीवाड़ा, बुरहानपुर, म.प्र.

स्थापना २०/०२/००, पंडित कोमलकिशोरी
संपर्क भागचंद पहाड़िया, विशाल काटन मिल्स, चौक मालीवाड़ा, रवी नगर, बुरहानपुर, म.प्र.
फोन ०७३२५-२५४४३६, २५८२०८, २५५४०१, मो. ९४२५०-८५६४०-९
   
१८. श्री दयोदय पशु धन संरक्षण समिति, हरदा, ४६१ ३३१ (म.प्र.)

संपर्क अध्यक्ष- बी.एल. जैन (देना बैंक के सामने), मंत्री -सत्यनारायण शर्मा
फोन ०७५७७-२२३२०३, २२३२९६
   
१९. बाहुबली जीवरक्षा एवं पर्यावरण संरक्षण संस्थान, मेघासिवनी, छिंदवाड़ा, म.प्र.

स्थापना २९.०१.९५, आचार्य श्री विद्यासागरजी ससंघ
संपर्क सुनील गोयल, चक्रेश जैन, श्रेयांस जैन, प्रभात गोयल
फोन ०७१६२-२४२००४, २४२००६, २४२६३४, २४४८९८
   
२०. दयोदय पशु सेवा सदन, घंसौर-सिवनी, म.प्र.

संपर्क अध्यक्ष- सुरेश जैन
फोन २४३०५२, २५३०२४, २४३०२३, २४३०४८, २४३०५६
   
२१. दयोदय जीवरक्षा संस्थान गौशाला, सिवनी, म.प्र.

संपर्क श्री दिगम्बर जैन पंचायत कमेटी, जैन धर्मशाला, सिवनी, विनोद कौशल, डॉ. धरमचंद जैन
फोन ०७६९२-२२११२८, २२०६४२
   
२२. दयोदय पशुसेवा समिति, गाडरवारा, नरसिंहपुर, म.प्र.

संपर्क राजीव, राजेश जैन, अूनप जैन(जैन थालावाले)
फोन ०७७९१-२२४९७२, २२८०१०, २२४८४५
   
२३. श्री विद्यासागर दयोदय पशु सेवा केंद्र, जबेरा, दमोह, म.प्र.
  ऊपर
२४. दयोदय पशु सेवा केंद्र, कैलवारा, कटनी, म.प्र.

स्थापना १५.०३.९८, मुनि श्री समतासागरजी, ससंघ
संपर्क सुभाष ट्रांसपोर्ट, कं.-सुधीर जैन
फोन २५२८७५, २५४१५४
   
२५. दयोदय पशु संवर्धन एवं पर्यावरण केंद्र, तिलवाराघाट, जबलपुर-४८२ ००३, म.प्र.

संपर्क अरविंद जैन चावल, वीरू जैन, मुकेश जैन, मल्ल कुमार जैन, संजय जैन अरिहंत, अशोक जैन, चक्रेश मोदी , आनंद सिंघई
फोन ०७६१-५०१८१८५, २४४२६५५, २३४३१७८, २३४५९०४, २३४८४८०, २३४५९४४, २३४०१३०, २३४३४०५, २४१३३६९, २३४२१०३, ९४२५१-५५०३८, ९४२५१-५२४२६, ९४२५१-६०३८२
   
२६. आचार्य विद्यासागर दयोदय पशु सेवा केंद्र, तेंदूखेड़ा, दमोह, म.प्र.

संपर्क डॉ. शिखरचंद जैन
फोन ०७६०३-२६३६८७
   
२७. दयोदय पशु संरक्षण केंद्र, उज्जैन, म.प्र.

संपर्क श्री पार्श्वनाथ दिगंबर जैन पंचायती मंदिर, ७०, अमरसिंह मार्ग, माधवनगर, उज्जैन, अध्यक्ष- कैलाशचंद जैन, पूर्व अध्यक्ष- उज्जैन विकास प्राधिकरण, फ्रीगंज उज्जैन
   
२८. संत श्री विद्यासागर जीवरक्षा गौसेवा सदन, संदलपुर, तहसील- खातेगांव, देवास, म.प्र.
   
२९. दयोदय पशु सेवा केंद्र, देवली-कलवर, तहसील- कन्नौद, खातेगांव, म.प्र.

संपर्क मांगीलाल जैन, कन्नौद
फोन ०७२७३-२२२५४४,२२२२३२ फैक्स – ०७२७३-२२२५३६
   
३०. दयोदय पशु सेवा केंद्र, बहिरावद, तहसील-कन्नौद, देवास-४५५३३२ म.प्र.

संपर्क मांगीलाल जैन, कन्नौद
फोन ०७२७३-२२२५४४,२२२२३२ फैक्स – ०७२७३-२२२५३६
   
  ऊपर
३१. जीवदया गौशाला संरक्षण न्यास, झिरन्या रोड, भीकनगांव- ४५१३३१, खरगोन, म.प्र.

स्थापना ३१.१२.९७, आर्यिका श्री दृढ़मतीजी, ससंघ
संपर्क अध्यक्ष- चिरंजीलाल अग्रवाल, मंत्री-अशोक जैन, जैन मंदिर के सामने
फोन २२२४८५, २२२०४६, फैक्स-२२२४७२
   
३२. दयोदय पशु संरक्षण समिति, पगारा, सिलवानी, रायसेन (म.प्र.)

स्थापना अगस्त ९७, आर्यिका श्री ऋजुमतीजी ससंघ
संपर्क राजेश सिंघई, सिलवानी
फोन ०७५८५-२४६५२९
   
३३. दयोदय पशुसेवा केंद्र, खिमलासा-४७०००८, म.प्र.

संपर्क अध्यक्ष- अरविंद सिंघई, सचिव- स्वतंत्र सराफ
फोन ०७५८१-२८४२६४, २८४४१२
   
३४. जिला पशु क्रूरता निवारण समिति, ललपुर, तहसील- सोहागपुर, शहडोल, म.प्र.

संपर्क कार्यालय- जैन भवन, जैन मंदिर परिसर, शहडोल, म.प्र.अध्यक्ष- पूनमचंद जैन, शहडोल, मंत्री- प्रो. आर.के. जैन, कोषा. वीरेन्द्र जैन, बरगदवाला शॉप, बुढ़ार
फोन ०७६५२-२४१६९४, २५१३८८, २५००६८
   
३५. आचार्य श्री विद्यासागर जीव रक्षा एवं पर्यावरण संरक्षण संस्थान, बरेली- ४६४६६९, रायसेन, म.प्र.

संपर्क अध्यक्ष- वृंदावन लाल जैन, नवीन जैन
फोन ०७४८६-२३०७४१, २३०४१९, २३०२२७
   
३६  
   
३७. दयोदय पशु सेवा केंद्र, धनौरा, सिवनी, म.प्र.

स्थापना ५.१.९९, ऐलक श्री विज्ञानसागरजी एवं छुल्लक श्री विनयसागरजी
संपर्क खेमचंद जैन, मंत्री- महेश जैन
फोन ०७६९०-२८५४२९, २८५४३५, २८५४६६
   
३८. दयोदय पशु सेवा केंद्र, हाटपीपल्या-४५५२२३, देवास, म.प्र.

संपर्क पवन कुमार टोंग्या, १४, नृसिंह बाजार
फोन ०७२७१-२७२२६७, २७२२४८
   
३९. संत श्री विद्यासागर जीवदया संस्थान गौशाला, नेमावर-४५५३३६, देवास, म.प्र.

संपर्क चांदमल रारा, महावीर मार्ग, नरेंद्र चौधरी, नंदू, सुनील सेठी
फोन ०७२७४-२३२२२९, २३२३६०
  ऊपर
४०. दयोदय पशु सेवा केंद्र, बीना बारहा, तहसील- देवरी, सागर, म.प्र.

स्थापना आचार्य श्री विद्यासागरजी, ससंघ
संपर्क राजकुमार बजाज, देवरी, पूरनचंद बजाज, महेंद्र सोधिया, महाराजपुर
फोन ०७५८६-२२०१३६, २२५०४५७, २२२२३४
   
४१. श्री श्री १०८ संत सुखरामदास बाबा पशु सेवा केंद्र रामपुरकलाँ- तहसील आष्टा, सीहोर म.प्र.

संपर्क मांगीलाल जैन, कन्नौद
फोन ०७२७३-२२२५४४
   
४२. दयोदय पशु सेवा केंद्र अम्बामाता गौशाला, किशुनपुरा, पो.-पिपलानी, तहसील- नसरुल्लागंज, सीहोर, म.प्र.

संपर्क मांगीलाल जैन, कन्नौद
फोन ०७२७३-२२२५४४
   
४३. दयोदय पशु संवर्धन केंद्र गौशाला, रेवती रेंज के पीछे, इंदौर, म.प्र.

संपर्क कार्यालय- दयोदय चेरीटेबल फाउंडेशन ट्रस्ट,५०-शिव विलास पैलेस, राजवाड़ा, इंदौर-४५२००४, म.प्र.संजय जैन मेक्स,मेक्स क्रिएशन, ५०-शिव विलास पैलेस, राजवाड़ा, इंदौर (म.प्र.) सुंदरलाल जैन, निर्मल कुमार पाटौदी, अशोक डोसी, सुनील बिलाला, कमल अग्रवाल
फोन ०७३१-२५३७५२२, २४३०८३५, २५३०८३५, २५३०६४५, ५०८२९०२, २५१४१२५, २४७६५३४, २५५१४१७मो.-९४२५०-५३५२१, ९४२५०-५३०१०, ९८२६०-६६६२२, ९८२७०-२०५४०
   
४४. दयोदय पशुसेवा सदन गौशाला, आमानाला, मण्डला-४८१०६६, म.प्र.

स्थापना आर्यिका श्री अनंतमतीजी, ससंघ
संपर्क अध्यक्ष- मिट्ठूलाल जैन, जैन कॉफी टी हाउस, बस स्टैंड, मंडला, रायसेठ नंदकुमार जैन
फोन ०७६४२-२५०१५६, २५००१२, २५०७२३
   
४५. श्री विद्यासागर दयोदय पशु संरक्षण एवं पर्यावरण केंद्र, जबलपुर रोड, रहली

स्थापना शिलान्यास १६.११.२०००, गुरमतीजी ससंघ
संपर्क वीरेंद्र कुमार जैन, सोनू इंटरप्राइजेज, रहली, सागर म.प्र.
फोन ०७५८५-२३२३५४
  ऊपर
४६. श्री दयोदय पशु सेवा केंद्र गौशाला, पपौरा (टीकमगढ़) म.प्र.

स्थापना ०९.१२.२००१, शिलान्यास, मुनिश्री समतासागरजी, ससंघ
संपर्क अरविंद जैन, चक्रेश जैन टढ़ैया, कल्याणचंद नायक
फोन ०७६८३-२४२८६९, २४२७०६, २४०५१५, २४०९३१, २४२८७३, २४००४०, २५२०४६, फैक्स- २४२७०६
   
४७. दयोदय पशु संवर्धन एवं पर्यावरण केंद्र, आवन, तहसील-राघौगढ़, गुना, म.प्र.

स्थापना ०२.१२.२००१ शिलान्यास, आर्यिका श्री अनंतमतीजी, ससंघ
संपर्क अध्यक्ष- डॉ. विमल जैन, मंत्री- दीपक जैन
फोन ०७५४४-२६३९५०, २६३९१३, २६३९४६
   
४८. दयोदय पशु सेवा केंद्र गौशाला, जैन मंदिर मार्ग, , सेसई (शिवपुरी), म.प्र.

स्थापना २२.११.२००१, मुनिश्री क्षमासागरजी, ससंघ)
संपर्क राजकुमार जैन, महामंत्री- चंद्रसेन जैन
फोन ०७४९२-२३३४५०, २२०८७४, २३४३६४
   
४९. आचार्य श्री विद्यासागर, पशु संरक्षण एवं पर्यावरण सुधार समिति, दयोदय केंद्र, बण्डाबेलई, सागर, म.प्र.

स्थापना शिलान्यास- आर्यिका श्री अकममतीजी ससंघ, उद्घाटन २००१, मुनिश्री प्रशांतसागरजी ससंघ
संपर्क अध्यक्ष- कमल कुमार बिलानीवाले, नंदकिशोर भाई जी, ब्र. विनय जैन, कमल जैन कंदवावाले
फोन ०७५८३-२२२२५०, २२२३९७, २२२३४
   
५०. दयोदय जीवरक्षा समिति, हट्टा, किरनापुर, बालाघाट, म.प्र.

संपर्क अध्यक्ष- त्रिलोकचंद कोचर, बालाघाट, सचिव- संजय जैन- हट्टा
फोन ०७६३२-२४०६३५, २८२५३७
५१. श्री ज्ञानोदय तीर्थ क्षेत्र, ज्ञानोदय नगर

संपर्क ब्र. सुकांत भैया
(प्रभारी)
दिगंबर जैन समिती (रजि)
श्री ज्ञानोदय तीर्थ क्षेत्र, ज्ञानोदय नगर
नारेली, अजमेर – 305024 (राजस्थान)
फोन मो.नं. – +91-9784206110
फोन : +91-0145-2671010, 11, 12.
वेबसाईट shreegyanodayateerth.com
ई मेल gyanodayateerth@rediffmail.com

32 Comments

Click here to post a comment
  • Abhi 2 mahine pahale hamne acharya shri ka vihar karaya tha main usme se ek hoon.
    Maine purva bhav me va is bhav main kuch to achche kaam kiye honge tabhi to mujhe aisa anmol mauka mila, acharya shri ki sewa ka mauka bhi milta tha, bada hi bhagyashali hoon, hum jabalpur se dongar gaon tak paidal gaye the, sabhee ka bahut sahyog tha, aur muniyon ke aashirwad se hum sabhi sakushal apne gantavya tak pahunch gaye
    Namostu acharya shri, aur samasta sangha ko meri namostu, ab main apne kaam par gujarat aa gaya hoon…….Naa jane phir kab mauka milega aisa…..bahumulya….

  • VIVEK JAIN KANPUR says says:
    NOV. 20, 2010 at 9:25 am

    NOV. 20, 2010 at 9:35 am

    PLEASE NOTED AND ENTERED MY GAUSHALA IN KANPUR U.P MAHANAGAR IN LISTED
    ACHARYA VIDHYASAGAR GAUSHALA & MANAV UTHAN KENDRA
    BITTHORE, BAIKUNTHPUR- KANPUR U.P (INDIA)
    PLEASE NOTED IN YOUR GAUSHALA LIST . THAT TIME 150 COWS IN MY GAUSHALA AND NOT GIVEN MILK. I HAVE 88 BIGA JAMEEN .
    VIVEK KUMAR JAIN , AZAD KUMAR JAIN
    TRUTEE,CHAIRMAN OF
    ACARYA VIDHYASAGAR FOUNDATION TTRUST
    KANPUR-U.P
    MOB- 09415129005

प्रवचन वीडियो

कैलेंडर

march, 2024

अष्टमी 04th Mar, 202404th Mar, 2024

चौदस 09th Mar, 202409th Mar, 2024

अष्टमी 17th Mar, 202417th Mar, 2024

चौदस 23rd Mar, 202423rd Mar, 2024

X