समय सागर जी महाराज कुण्डलपुर (दमोह) में हैं।सुधासागर जी महाराज बिजोलिया (राजस्थान) में हैंयोगसागर जी महाराज (ससंघ) छिंदवाड़ा में हैं...मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज नेमावर में हैं... आचार्यश्री की जानकारी अब Facebook पर Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर शाकाहारी रेस्टोरेंट Android पर दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर देश और विदेश के जैन मंदिरों एवं जिनालय की जानकारी के लिए www.jaintemple.in विजिट करें

श्रृद्धा-भक्ति से मनेगा आचार्यश्री विद्यासागर जी का जन्मदिन

भोपाल में पहली बार विद्यागुरू विधान सभी मंदिरों में चल रहीं हैं तैयारियां

 
 
रवीन्द्र जैन

भोपाल। जैन संत आचार्यश्री विद्यासागर जी महाराज के 65 वें जन्मदिन के अवसर पर राजधानी भोपाल में भव्य आयोजन की तैयारियां शुरू हो गई हैं। इस अवसर पर सुबह विद्यागुरू विधान एवं शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रम व महाआरती की जाएगी। तैयारियों के संबंध में हुई बैठक में निर्णय लिया गया है कि 22 अक्टूबर को शहर के सभी अनाथाश्रमों में दोनों समय का भोजन जैन समाज की ओर से कराया जाएगा एवं सभी जैन मंदिरों पर विद्युतसज्जा की जाएगी। भोपाल के लगभग सभी जैन मंदिरों की टीमें ने इस आयोजन में अपनी प्रस्तुतियां देने की तैयारियां शुरू कर दी है।

आयोजन समिति के अध्यक्ष मनोहरलाल टोंग्या एवं महामंत्री नरेन्द्र जैन वंदना ने बताया कि – 22 अक्टूबर शुक्रवार को आचार्यश्री के जन्मदिन के अवसर पर विद्यायन तीर्थ प्रोफेसर कॉलेानी में सामूहिक विद्यागुरू विधान का आयोजन किया गया है। इस विधान के माध्यम से जैन समाज अपने गुरू के गुणों की आराधना करेगा। आचार्यश्री के शिष्य मुनिश्री सुव्रतसागर जी महाराज द्वारा रचित यह विधान सामूहिक रुप से पहली बार भोपाल में किया जा रहा है। इस अवसर पर आचार्यश्री की ग्रहस्थावस्था की दोनों बहनें ब्र.शांता दीदी व ब्र.स्वर्णा दीदी भी उपस्थित रहेंगी। पं. राजेश जैन राज विधान की क्रियाएं सम्पन्न कराएंगे। विधान के बाद सामूहिक भोज का आयोजन किया गया है। शाम को सात बजे स्वराज उद्यान, रवीन्द्र भवन में सांस्कृतिक कार्यक्रम होंगे। इनमें सभी दिगम्बर जैन मंदिरों से 22 टीमें भाग ले रहीं हैं। टोंग्या ने बताया कि – सांस्कृतिक कार्यक्रम का प्रभारी कल्पना जैन व नीरज पांड्या को बनाया गया है। इस अवसर पर वडौदरा के कलाकार भी शानदार प्रस्तुतियां देंगे।

प्रमोद हिमांशु होंगे सौधर्म इंद्र : विद्यागुरू विधान में प्रमेाद जैन हिमांशु को सौधर्म इंद्र बनने का सौभाग्य प्राप्त हो रहा है। उनके अलावा पवन जैन सुपर महायज्ञ नायक, पंकज जैन सुपारी यज्ञनायक, मनोहरलाल टोंग्या श्रावक श्रेष्ठी होंगे।

भव्य महाआरती : आयोजन समिति के संयोजक अरविन्द सुपारी ने बताया कि आचार्यश्री के चित्र की 65 चांदी के दीपों एवं एक हजार आठ अन्य दीपों से आरती की जाएगी। मुख्य आरती करने का सौभाग्य सतीश सत्यम के परिवार को मिला है।

सजेगा आचार्यश्री का पालना : पहली बार जैन समाज के सभी युवा मंडलों की ओर से स्वराज उद्यान में आचार्यश्री के जन्मदिन के अवसर पर पालना एवं झांकी तैयार कराई जा रही है। उसे बंगाल के कलाकार तैयार कर रहे हैं।

सम्मान समारोह भी : प्रवक्ता अंशुल ने बताया कि आचार्यश्री के जन्मदिन के अवसर पर प्रतिवर्ष की तरह इस वर्ष भी समाज रत्न एवं समाज गौरव का सम्मान दिया जाएगा। सर्वसम्मति से समाज रत्न के सम्मान के लिए श्री बागमल जी बाबा पंचशील नगर का चयन किया गया है। बाबा जी ने अपना पूरा जीवन समाज की सेवा में लगाया है। समाज गौरव सम्मान के लिए आईपीएस अधिकारी व उज्जैन के आईजी श्री पवन जैन का चयन किया गया है। श्री जैन ने पुलिस की सेवा में रहते हुए कई जिलों में गरीबों को सूदखोरों के चुंगल से मुक्ति दिलाकर जैन समाज का गौरव बढ़ाया है।

आचार्यश्री

23 नवंबर 1999 को आचार्यश्री का इंदौर से विहार हुआ था। तब से अब तक प्रतीक्षारत इंदौर समाज

2019 : विहार रूझान

मेरी भावना है कि संत शिरोमणि विद्यासागरजी महामुनिराज का विहार नेमावर से यहां होना चाहिए :




5
24
20
17
4
View Result

कैलेंडर

december, 2019

अष्टमी 04th Dec, 201904th Dec, 2019

चौदस 11th Dec, 201911th Dec, 2019

अष्टमी 19th Dec, 201919th Dec, 2019

चौदस 25th Dec, 201925th Dec, 2019

hi Hindi
X
X