जैन धर्म से जुड़ी धार्मिक गतिविधियों की जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं?

नियमित सदस्य बनकर पाएं हर माह एक आकर्षक न्यूज़लेटर

सदस्यता लें!

हम आपको स्पैम नहीं करेंगे और आपके व्यक्तिगत डेटा को सुरक्षित बनाएंगे

आचार्यश्री की जानकारी अब Facebook पर Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर शाकाहारी रेस्टोरेंट Android पर दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर देश और विदेश के जैन मंदिरों एवं जिनालय की जानकारी के लिए www.jaintemple.in विजिट करें Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें देश और विदेश के शाकाहारी जैन रेस्तराँ एवं होटल की जानकारी के लिए www.bevegetarian.in विजिट करें

साहित्य

आचार्यश्री द्वारा रचित अनुपम कृति महाकाव्य ‘मूकमाटी’
कन्नड़, बंगाली, मराठी, गुजराती व अंग्रेजी भाषा में भी उपलब्ध
मीमांसा तीनों खंड व मूकमाटी संगोष्ठी स्मारिका उपलब्ध
MukMati

यह महाकाव्य पढ़ना चाहें तो आप इस पते पर संपर्क कर यह महाकाव्य प्राप्त कर सकते हैं।
अनुमानित कीमत 200 रुपए

सपर्क सूत्र : डॉ. आर.के जैन
पता : 53/9B, साकेत नगर, भोपाल
मोबाइल : +91-94244-69101
बैंक खाता क्र. 10625231219

____________________________________________________________________

हिंदी, संस्कृत, अंग्रेजी आदि में अब तक प्रकाशित प्रमुख रचनाएँ:
  • ‘नर्मदा का नरम कंकर’
  • ‘डूबो मत, लगाओ डुबकी’
  • ‘तोता रोता क्यों’
  • ‘मूकमाटी’
काव्य-कृतियाँ
  • ‘गुरुवाणी’
  • ‘प्रवचन-पारिजात’
  • ‘प्रवचन-प्रमेय’
कविता
आचार्य कुंदकुंद के ‘समयसार’, ‘नियमसार’, ‘प्रवचनसार’ तथा ‘जैन गीता’ (समणसुत्तं) आदि डेढ़ दर्जन ग्रंथों का पद्यानुवाद। अनेक शतकों की रचना।
संत काव्य की परंपरा में राष्ट्रीय स्तर की ख्याति। वर्तमान में ग्राम, नगर तथा तीर्थक्षेत्रों पर विहार करते हुए अपने हित-मित वचनामृत से जन-कल्याण में निरत और साधना की उच्चतर सीढ़ियों पर सतत आरोहण।
साहित्य प्राप्ति स्थल
अमर ग्रंथालय
श्री दिगम्बर जैन उदासीन आश्रम,
५८४, महात्मा गाँधी मार्ग,
इन्दौर (मध्य प्रदेश) भारत
दूरभाष – +91-731-2545744

9 Comments

Click here to post a comment
  • PUJYA SHREE JI I WANT TO PURCHASE JAINSM OLD BOOK EDITION NAME LAGHU VIDHYA ANUVAAD IF U HAD IT THEN KINDLY CALL BACK. MY NUMBER IS – 07792038897

    THANKS IN ADVANCE

  • quey about the laghu vidya anuvaad written by aacharya kun kund KINDLY CALL BACK OR GIVE ME CALL ON 09416491346

  • SIR I WANT TO PURCHASE JAINSM OLD BOOK EDITION NAME LAGHU VIDHYA ANUVAAD IF U HAD IT THEN KINDLY CALL BACK OR GIVE ME CALL ON 09416491346

कैलेंडर

december, 2017

28jun(jun 28)7:48 am(jun 28)7:48 amसंयम स्वर्ण महोत्सव

काउंटडाउन

X