आचार्यश्री समयसागर जी महाराज इस समय डोंगरगढ़ में हैंयोगसागर जी महाराज इस समय चंद्रगिरि तीर्थक्षेत्र डोंगरगढ़ में हैं Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर आर्यिका पूर्णमति माताजी डूंगरपुर  में हैं।दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें देश और विदेश के शाकाहारी जैन रेस्तराँ एवं होटल की जानकारी के लिए www.bevegetarian.in विजिट करें

आचार्यश्री के चरणों में दिल्ली तिहाड़ जेल से आए कैदी

सिद्धोदय सिद्धक्षेत्र नेमावर जी में संत शिरोमणि आचार्य भगवन श्री 108 विद्या जी महामुनि राज के पावन चरणों में दिल्ली तिहाड़ जेल से आए कैदी शिवदाश केरला में जन्मा व एक ग्वालियर में जन्मा प्रशिक्षक बंधुओं ने सजा काटते हुए हथकरघा के माध्यम से जीवन में परिवर्तन कैसे आया बात रखी।

जब शिवदाश कैदी 10 साल की सजा काटने के बाद घर में अपने परिवार जन से ना मिलकर सीधे आचार्य श्री विद्यासागर जी भगवान के दर्शन करने पहुंचे वहां पर उन्होंने अपनी गलतियों का एहसास किया और जीवन भर मांस मदिरा आदि का ना खाने का संकल्प लिया।

आचार्य श्री जी ने बहुत-बहुत आशीर्वाद देकर बंदियो के जीवन कल्याण के कुछ सूत्र दिए और सूत्रों को सुनकर बंदी भाई ने आचार्य श्री के समक्ष सभी कैदियों के द्वारा भेजे गए पत्रों का वाचन किया। हजारो भक्तो ने तालिया बजाकर गुरुजी के जयकारे लगाए।

कैदी भाई ने बताया कि भगवन आपके आशीर्वाद से जब से तिहाड़ जेल में हथकरघा का काम प्रारंभ हुआ है तभी से हम करीब 35 भाइयों ने संकलप पूर्वक लगन के साथ हथकरघा कार्य सीखना चालू किया
। आज वर्तमान में हम सभी लोग 500 से लेकर के 800 और हजार रुपये तक प्रतिदिन कमाते हैं और जो भी राशि महीने में मिलती है उस राशि का सदुपयोग हम बंदी भाई के परिवार जन करते हैं हम लोगों ने अपने परिवार जन को भी शाकाहार का नियम दिलाया है और उनसे भी कहा है कि आप के संपर्क में रहने वालों को आचार्य श्री विद्यासागर महाराज के संदेश को जरूर सुनाये।

अपने रिश्तेदारों को शाकाहार का नियम दिलाएं। बंदी भाई ने बताया तिहाड़ जेल में अफगानिस्तान से आए एक मुस्लिम भाई जिनका नाम है शेर अहमद गुल मोहम्मद अफगानिस्तानी जिनको आतंकवादी के रूप में कहा जाता है और एक बांग्लादेश से आए मुस्लिम भाई जिनका नाम है सहजाद समान जो कि वर्तमान में जेल की सजा काटते हुए हजारो रुपये हर महीने कमा रहा है।

आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज के आशीर्वाद से 35 बंदी तिहाड़ जेल में भारत पतस्का हतकरघा केंद्र में कार्यरत है और जब से हम लोगो ने कपड़े बनाना सीखे पूरा दिन उसी में निकल जाता है दुनिया की सारी बाते भूलकर सिर्फ हमारी दृष्टि ज्यादा से ज्यादा पैसे कमाने ओर काम पर रहती है सारी बुराइया भूलकर नेक इंसान बन रहे है। हम सभी
हमारे फेक्ट्री का संचालन दिल्ली के बहुत ही सज्जन लोग करते है समय समय पर जेल आकर हालचाल पूछते है और कपड़े आदि भर सारी चीजे देते है हम लोग बहुत खुश है।

मैं शिवदाश केरला वाला आज नियम लेता हूं में तिहाड़ जेल में हथकरघा का काम करूंगा। पहले में बंदी बनकर कार्य करता था अब मैं आम आदमी बनकर सेवा दूँगा गुरुजी आप आर्शीवाद दीजिये। जेल की व्यवस्थाओं से सभी खुश है। अभी हम लोगो को कमेटी ने जूते ओर गर्म वस्त्र भी बाटे।

साभार:- ब्र सुनील भैया जी अनंतपुरा वाले
सौमिल जैन, ललितपुर
+91-97936-33522

प्रवचन वीडियो

कैलेंडर

march, 2024

अष्टमी 04th Mar, 202404th Mar, 2024

चौदस 09th Mar, 202409th Mar, 2024

अष्टमी 17th Mar, 202417th Mar, 2024

चौदस 23rd Mar, 202423rd Mar, 2024

X