मुनिश्री प्रमाणसागरजी महाराज का विहार बदनावर रोड पर, संभावित स्थल बावनगजाजी आचार्यश्री की जानकारी अब Facebook पर Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर शाकाहारी रेस्टोरेंट Android पर दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर देश और विदेश के जैन मंदिरों एवं जिनालय की जानकारी के लिए www.jaintemple.in विजिट करें Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें

श्री दिगंबर जैन शीतल न्यास ट्रस्ट – विदिशा (म.प्र.)

भोपाल के नज़दीक़, विदिशा जिले में स्थित दसवें तीर्थंकर भगवान शीतलनाथाय जी के गर्भ, जन्म और तप कल्याणक विदिशा में सम्पन्न हुए थे । इस परम पावन धरा पर 7, जुलाई 2014 से प्रात: स्मरणीय सन्त शिरोमणी, अध्यात्म योगी आचार्य श्री 108 विद्यासागर जी महा मुनिन्द्राय महाराज ससंघ का वर्षायोग सानन्द चल रहा है । आचार्य महाराज के आशीर्वाद से अद्वितीय समवशरण मन्दिर का निर्माण कार्य तेज़ी से चल रह है । सहस्त्र कूट जिनालय का निर्माण प्रगति पर है। इस धर्म क्षेत्र पर सन्तगणों के आहार के लिये चौका हेतु पर्याप्त कमरें हैं । अतिथि आवास, प्रवचन सभाग्रह, त्यागी- व्रतियों का रहवास और भोजनालय की समुचित व्यवस्था है ।

इस तीर्थक्षेत्र का परिपूर्ण निर्माण हो जाने पर जैन श्रमण-सँस्कृति के इतिहास में हज़ारों-हज़ार वर्षों तक जिन धर्म की महती धर्म-प्रभावना होती रहेगी । सन्त शिरोमणी 108 आचार्य श्री विद्यासागर जी महाराज ससंघ के दर्शनार्थ, आशीर्वाद और आशीर्वचन के लिये सभी श्रध्दालु सादर आमन्त्रित हैं। विदिशा देश के ह्रदय स्थल में है । बीना-भोपाल के बीच मुख्य रेल्वे स्टेशन है । भोपाल से वायुमार्ग-फ़्लाइट की सुविधा है ।

 

  • फोटोगैलेरी

2018 : विहार रूझान

मेरी भावना है कि संत शिरोमणि विद्यासागरजी महामुनिराज का विहार ललितपुर से यहां होना चाहिए :




12
16
1
20
2
View Result

Countdown

कैलेंडर

december, 2018

चौदस 06th Dec, 201821st Dec, 2018

अष्टमी 15th Dec, 201829th Dec, 2018

X