Click here to submit
देश और विदेश के शाकाहारी जैन रेस्तराँ एवं होटल की जानकारी के लिए www.bevegetarian.in विजिट करें देश और विदेश के जैन मंदिरों एवं जिनालय की जानकारी के लिए www.jaintemple.in विजिट करें Apple Store - आचार्यश्री विद्यासागरजी के वॉलपेपर फ्री डाउनलोड करें Apple Store - जैन टेम्पल आईफोन/आईपैड पर Apple Store - शाकाहारी रेस्टोरेंट आईफोन/आईपैड पर दिगंबर जैन टेम्पल/धर्मशाला Android पर शाकाहारी रेस्टोरेंट Android पर आचार्यश्री के वॉलपेपर Android पर Youtube - आचार्यश्री विद्यासागरजी के प्रवचन देखिए Youtube पर आचार्य श्री की जानकारी अब Facebook पर

आचार्य प्रवर श्री ज्ञानसागर जी महाराज

7,781 views

आचार्य परम्परा

Acharya Gyan Sagar Ji Maharaj पूज्य साहित्य मनीषी आचार्य प्रवर ज्ञानसागर जी महाराज

पूर्व नाम : पंडित श्री भूरामल जी छाबड़ा
पिता श्री : श्री चतुर्भुज जी
माता श्री : श्रीमती घृतभरी देवी
भाई/बहिन : पॉंच भाई (छगनलाल, भूरामल, गंगाप्रसाद, गौरीलाल एवं देवदत्त)
जन्म स्थान : ग्राम रानोली, जिला, सिकार (राजस्थान)
शिक्षा : प्रारंभिक शिक्षा गांव के विद्यालय में शास्त्री स्तर की शिक्षा स्यादवाद महा।, बनारस में
ब्रह्यचर्य व्रत : १९४७ वि. सं. २००४
क्षुल्लक दीक्षा तिथि : १९५५ वि।सं। २०१२
क्षुल्लक दीक्षा गुरू : आचार्य श्री वीरसागर जी महाराज
नामकरण : क्षुल्लक श्री ज्ञानभूषण जी महाराज
ऐलक दीक्षा : सन्‌ १९५७ में वि।सं। २०१४
मुनि दीक्षा : सन्‌ २०/०६/१९५९ सोमवार आषाढ़ कृष्णा ०२ में वि।सं। २०१६
स्थान : श्री दिगम्बर जैन क्षेत्र खानिया जी, जयपुर (राजस्थान)
मुनि दीक्षा गुरू : आचार्य श्री शिवसागर जी महाराज से
आचार्य पद : ०७/०२/१९६९ फाल्गुन वदी-०२ वि. सं. २०२५
आचार्य पद स्थल : नसीराबाद (राजस्थान)
समाधि : ०१/०६/१९७३ ज्येष्ठ कृष्णा अमावस्या वि।सं। २०३०, नसीराबाद (राजस्थान)

इस सेक्शन में अधिक :

  1. प्रसंग : 7 फरवरी, ‘आर्चाया – पद’ दिवस
  2. महाकवि जैनाचार्य ज्ञानसागर डाक टिकट/वॉलपेपर्स
  3. महाकवि जैनाचार्य ज्ञानसागर जी पर डाक टिकट
  4. आमंत्रण आचार्य ज्ञानसागर डाक टिकट
  5. आचार्य ज्ञानसागर डाक टिकट (वीडियो) – मंगलवार 10 सितम्बर 2013

3 Responses to “आचार्य प्रवर श्री ज्ञानसागर जी महाराज”

Comments (3)
  1. their is an error in birth place please revise it.
    actual birth place-ranoli-gram,sikar ,rajasthan.

  2. Birth place of Acharya Gyan Sagar ji Maharaj is written wrong. it should be Gram Ranoli, Distt. Sikar, Rajasthan. May please correct the same for future reference.

  3. Aap ka prayas ati prasaniya Hai.

    Muni shree ji to mere parivar kaa naman.

    Bharat Sarkar ko dhanyabad

Leave a Reply

You may use these HTML tags and attributes: <a href="" title=""> <abbr title=""> <acronym title=""> <b> <blockquote cite=""> <cite> <code> <del datetime=""> <em> <i> <q cite=""> <s> <strike> <strong>

(required)

(required)

Comment body must not contain external links.Do not use BBCode.
© 2017 vidyasagar.net दयोदय चेरिटेबल फाउंडेशन ट्रस्ट (इंदौर, भारत) द्वारा संचालित Designed, Developed & Maintained by: Webdunia